शुक्रवार, 3 जुलाई 2015

पाना डारा ले लगे

पाना डारा ले लगे, नाचय कतका झूम ।
हरियर हरियर रंग ले, मन ला लेवय चूम ।।
मन ला लेवय चूम, जेन देखय जी ओला ।
जब ले छोड़े पेड़, परे हे पाना कोला ।।
खूंदय कचरय देख, आदमी मन अब झारा ।
कचरा होगे नाम, रहिस जे पाना डारा ।।