बुधवार, 9 दिसंबर 2015

मनखे के बांटा

कांटा मा पांव परय के पांव मा परय कांटा
चाहे तो डांट परय के गाल मा परय चांटा
पथरा लोहा म करेजा के धधक कहां होथे
पीरा अउ आंसु परय मनखे के रात दिन बांटा ।