बुधवार, 9 दिसंबर 2015

आतंकी के धरम कहां होथे

मुक्तक
बहर 222 212 1222
आतंकी के धरम कहां होथे ।
बहिया मन के करम कहां होथे ।।
गोली मारव कुकर ल जब चाबय
अइसन बेरा शरम कहां होथे ।।
-रमेश चौहान