सोमवार, 25 जनवरी 2016

अपन फरज निभाबो

रोला छ़द
अपन देश के फर्ज. हमू मन आज निभाबो ।
कामबुता के संग. देश के गीत ल गाबो ।
देशभक्त ला देख. फूल कस बिछ जाबो ।
आघू बैरी देख. हमन बघवा बन जाबो ।।
-रमेश चौहान