बुधवार, 13 अप्रैल 2016

नाम ओखर हे ममता

ममता चंद्राकरजी ला पद्मश्री से सम्मानित होय बर गाड़ा-गाड़ बधाई -

ममता दी के मान ले, माथा ऊंचा होय ।
छत्तीसगढ़ी बर इहां, जेने मही बिलोय ।।
जेने मही बिलोय, घीव ला बांटे घर-घर ।
लता कोयली होय, गीत ला गाये झर-झर ।।
छत्तीसगढ़ी आन, रखे हे अपने क्षमता ।
जेन हमर पहिचान, नाम ओखर हे ममता ।
-रमेश चौहान